Eye Care Hospital Sanchore

Eye Care Hospital Sanchore

Average Reviews

Photos

Description

आई केयर हॉस्पिटल सांचौर

AN ISO 9001 :2008 CERTIFIED HOSPITAL

Out Patient Cataract Surgery Center

address :-आई केर होस्पिटल वदुदेवी खेताराम भवन” पुराना पावर हाउस के पिछे, सांचौर जालोर राजस्थान 343041 

थारे वास्ते ! सांचौर का सबसे बड़ा आई केर नेटवर्क

मोतियांबिद, ग्लूकोमा (झामर ) लेसिक, कॉर्निया, चश्मे एवं कांटेक्ट लेंस नेत्र सम्बंधित समस्त सुविधा एक ही छत के नीचे

CARING SINCE 1987

THE BEST Doctors – infrastructure – technology – staff

डॉ. लक्ष्मण के. राजपुरोहित
(मेनंजिग डायरेक्टर) 94260-75024, 99299 89596, 8000149300

30 साल का अनुभव मोतियाबिंद बिना टाके का ऑपरेशन

  • मोतियाबिन्द और झामर आंखों की ऐसी बिमारी है। जो कभी भी किसी को भी हो सकती है। उसकी जानकारी सिर्फ नियमित जांच से ही होती है।
  • नियमित अपनी आंखों की जाँच करवाओं वो ही आंखों की सुरक्षा का अति उत्तम उपाय है। यह उचित है क्योंकि.. मेरे मित्र सूर्योदय सुनाई नहीं देता खूबसूरत सूर्योदय सिर्फ दिखाई देता है।

लगातार 9 वर्षों से अपने शहर सांचौर में नैत्र दृष्टि दोष का
गुणवत्तापूर्ण उपचार एवं ऑपरेशन
मारवाड़ वासियों द्वारा हम पर अटूट विश्वास रखने के लिए शुक्रिया।

 

मोतियाबिंद ऑपरेशन के लिए अत्याधुनिक उपकरण सुविधा

 

  • सर्व सुविधायुक्त ऑपरेशन थियेटर
  • सियोर्स टोनो मीटर-जर्मनी (NCT) टॉपकोन जापान
  • अल्ट्रा साउण्ड ए-स्केन – यु.एस.ए
  • ऑपरेशन उपरांत अलग रिकवरी कक्ष
  • ओटोरेफ केरोटो मीटर नाईडेक – जापान एण्ड प्रोटेक कोरीया
  • माइक्रो सर्जरी पद्धति के लिए ऑपरेटींग माइक्रोस्कोप – जापान
  • प्रोटेजी एण्ड एल्कोन फेको ईमल्सिफिकेशन यूनिट – यु.एस.ए
  • ऑपरेशन से पूर्व पश्चात मार्गदर्शन

 

आज ही अपनी आंखों की जाँच करवाने का निश्चय करें प्रत्येक गुरूवार निः शुल्क जाँच दोपहर 3.00 से 7.00 समिति अपाइटमेंट सूचित अवश्य करें।

डॉ. लक्ष्मण के. राजपुरोहित
(मेनंजिग डायरेक्टर)

डॉ. हिमांशु ठक्कर M.S.(Ophth)
डॉ. मयूर वाघेला M.S.(Ophth)
डॉ. अनिल पटेल (मियानी) M.S Ophth) Care
मयूर राजपुरोहित (Optom)
एण्ड एसोसीऐट्स डॉक्टरर्स

आई केर होस्पिटल वदुदेवी खेताराम भवन” पुराना पावर हाउस के पिछे, सांचौर
Email : [email protected]

प्रत्येक दिन प्रात: 8.30 से 1.00 बजे, दोपहर 3.00 से 7.00

आंखों के ऑपरेशन के लिए अब गुजरात जाने की जरूरत नहीं । जिला अंधत्व निवारण समिति से मान्यता प्राप्त

Help Line 24 x 7

Eye Care 94260-75024, 99299 89596, 8000149300

जब आंखों की सार संभाल में गुणवत्ता की बात आती है तो आई केर एक कदम आगे है….

 

ऑय केयर टिप्स

  1. उपयुक्त आहार: एक अच्छी नेत्र देखभाल सही आहार से शुरू होती है। ..
  2. यूवी प्रकाश से संरक्षण: धूप का चश्मा रेटिना क्षति को रोकता है। ..
  3. धूम्रपान छोड़ें: ..
  4. अपनी आंखों को उचित आराम दें: …
  5. नियमित आंखों की जांच कराएँ

 

  • ठड़ी ककड़ी के स्लाइस काट कर 10मिनट आखों में रखे, पानी अधिक पिए,
  • हरे धनिया को पीसकर उसका रस निकाल लें और उसे साफ कपड़े में छान लें और इसकी 2-बूंदें आंखों
    में डालने से दखती आखे ठीक होती हैं.
  • सप्ताह में कम से कम 3 बार, बादाम-दूध पिएं,. इसमें विटामिन ई होता है जो आंखों के लिए फायदेमंद
    होता है।
  • आवला-दूध सुबह खाली पेट पीना भी आपको फायदा पहंचायेगा.
  • अमरूद, सतरा, अनानास, मछली, बादाम, गाजर, अंडा इनके सेवन से आँखों को लाभ पहुंचता है।
  • जिस कमरे में कप्यूटर हो उसमें उचित प्रकाश होना जरूरी है .
  • जब भी कंप्यूटर के पास बैठे तो हर 20 मिनट के बाद 20 सेकेंड के लिए स्क्रीन से नजरें हटा लें और 20 फुट दूर की किसी चीज पर अपनी नजरें स्थिर करें.
  • कार्यटर मॉर्निटर को कुछ इस तरह सेट करें कि आखें मांनिटर के टॉप लेवल पर हो.
  • कप्यूटर का ब्राइटनेस लेवल सेट करे या एन्टीग्लेयर कवर और कंप्यूटर ग्लास फिट कराएं.
  • बेहतर लेस का प्रयोग करें या एन्टी उलेयर चश्मा पहने.
  • जब भी स्क्रीन के सामने 1 घंटे से अधिक बैठे तो पलके धीरे-धीरे झपकाएं.
  • स्माल ब्रेक्स और हेल्दी लाइफस्टाइल जरूरी है.
  • साल में एक बार अपने आंखो की जांच जरूर करवाएं.
  • रात में सोने से पहले आँखों को साफ ठण्डे पानी से धोइए.
  • 1 मिनट में कम से कम 10 से 12 बार आंखों की पलकें झपकाते रहें. ऐैसा करने से आंखें रुखी नहीं रहती हैं.
  • लेटकर या झुककर पढ़ना भी आंखों के लिए ठीक नहीं है. पढ़ते समय प्रकाश पीछे से आना चाहिए.
  • चलती हुई बस या गाड़ी में किताब पढ़ने से आखें खराब हो जाती है.
  • Eye Care Tips in Hindi नींद कम लेने से भी आंखों पर बुरा असर पड़ता है, कम से कम 7 घंटे की नींद जरूर लें.
  • सुबह के समय में आप अपने दोनो हाथों को आपस में रगड़कर उसकी गर्मी को अपनी आंखों पर लगाएं. इस उपाय से आंख की कमजोरी दूर होती है.
  • आँखों की समस्या को दूर करने के लिए रोज सुबह खाली पेट पालक के पत्ते खाये. पालक खाने से आँखों की रौशनी तो बढ़ती ही है साथ में इससे खून भी बढ़ता है .
  • रोज सुबह खाली पेट देसी घी और उसमे पिसी हुई मिश्री और पिसी हुई काली मिर्च मिलाकर खाये.
  • भोजन में हमेशा विटामिन A, B, C भरपूर मात्रा में लेना चाहिए. विटामिन A की कमी से रतोंधी नामक रोग हो सकता है.
  • पैरो के तलवों पर सरसों तेल की मालिश करे , सुबह के समय नंगे पैर हरी घास पर चले.
  • केला, गन्ना खाना आँखों के लिए हितकारी है, गन्ने का रस पिए.
  • रोजाना दिन में कम से कम दो बार अपनी आँखों में ठन्डे पानी के छीटे अवस्य मारे
  • आँखों में गाँगल्स या यूवी प्रोटेक्टव लैंस वाले चश्मे का प्रयोग करें.
  • आंखो में गुलाब जल इाले.
  • ठन्डे पानी से आँखों को धोएँ.
  • प्रतिदिन पपीता खाने से आंखों की रोशनी बढ़ती है.
  • सेब का मुरब्बा खाये और उसके बाद दूध का सेवन करे ऐसा करने से आंखों की रोशनी तेज होती है.
  • प्रतिदिन फल और सब्जियों का सेवन करने से आंखों की शक्ति बढ़ती है.
  • प्रतिदिन यदि आप गाजर का जूस पीयें तो आंखों की रोशनी बढ़ेगी.
  • सेब के सेवन करने और उसका जूस पीने से आंखों की ज्याति तेज होती है.
  • कप्यूटर पर काम करते समय स्क्रीन पर लगातार न देखें. 20 मिनट के बाद स्क्रीन से आंखे हटा लें ऐसा करने से आंखों को आराम मिलता है.
  • लगातार रोजाना दो से तीन घंटे कंप्यूटर पर कार्य करने से व्यक्ति में कंप्यूटर विजन सिन्ड्रोम के लक्षण देखने को मिल सकते है। कुछ सावधानियाँ बरतकर कंप्यूटर विजन सिन्ड्रोम से बचाव किया जा सकता है।
  • आंखों को सुरक्षित रखने के लिए कंप्यूटर, आईपैड, स्मार्टफोन से दूरी के साथ ही लाइफस्टाइल में बदलाव जरूरी है। तभी अधिकतर सीवीएस के लक्षणों को नियंत्रित किया जा सकता है।
  • जिस कमरे में कंप्यूटर हो उसमें उचित प्रकाश होना जरूरी है ज्यादा तेज रोशनी भी नहीं होनी चाहिए, एवं प्रकाश व्यक्ति के पीछे से होना चाहिये, सामने से नहीं।
  • जब भी कंप्यूटर के पास बैठें तो हर 20 मिनट के गैप में 20 सेकेंड के लिए स्क्रीन से नजरें हटा लें और 20 फुट दूर किसी फिक्स्ड प्वाइंट पर फोकस करें।
  • आइज मूवमेंट आंखों को बेहतर करने में लाभकारी है। ऑफिस या घर पर मॉनिटर को कुछ इस तरह सेट करें कि आंखें मॉनिटर के टॉप लेवल पर हों।
  • कंप्यूटर डिवाइस का कंट्रास्ट या ब्राइटनेस लेवल को सेट करें या एन्टीग्लेयर कवर और कंप्यूटर ग्लास फिट कराएं।
  • बेहतर लेंस का प्रयोग करें या एन्टी ग्लेयर (चौंध रहित) चश्मा पहने एवं चौंध रहित स्क्रीन का प्रयोग करना चाहिये।
  • जब कभी भी स्क्रीन के सामने घंटे भर से अधिक बैठे हों तो ड्राई आईज से बचने के लिए पलकें, धीरे-धीरे झपकाएं। साथ ही, सीवीएस से बचने के लिए स्मॉल ब्रेक्स और हेल्दी लाइफस्टाइल भी जरूरी है।
  • आंखों के लिए कंप्यूटर विजुअल चैलेंज हो सकता है पर जब परहेज के साथ इस्तेमाल किया जाए तो पर्मानेंट डैमेज कभी नहीं होने देता। आंखों में जब भी अच्छा सा महसूस ना हो तो डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।
  • साल में एक बार आंखों की जांच जरूर करवाएं।
  • प्रतिदिन रात के समय में सोने से पहले अपनी आंखों को स्वच्छ ठण्डे पानी से धोएं।

 

 

Frequently Asked Question 

  • Which is the Nearest Landmark ?

Purana Power House Sanchore.

  • What Are The Various Mode of Payment Accepted Here ?

You can make payment Via Cash, PhonePe,

  • What are its hours of Operation ?

Monday:- 10:30 Am – 10:00 Pm
Tuesday:- 10:30 Am – 10:00 Pm
Wednesday:- 10:30 Am – 10:00 Pm
Thursday:- 10:30 Am – 10:00 Pm
Friday:- 10:30 Am – 10:00 Pm
Saturday:- 10:30 Am – 10:00 Pm
Sunday:- 10:30 Am – 10:00 Pm

 

Business Info

Statistic

283 Views
0 Rating
2 Favorites
16 Shares

Categories

Author

Claim Listing

Is this your business?

Claim listing is the best way to manage and protect your business.

Related Listings